स्टेशन कमांडर को दिया ज्ञापन, पहाड़ के बच्चों को लम्बाई में मिले छूट

Spread the love

पूर्व सैनिकों ने सीएसडी कैंटीन और ईसीएचएस की सुविधा दिए जाने की मांग को लेकर स्टेशन कमांडर रानीखेत को एक ज्ञापन दिया। यहां कैंटीन के निरीक्षण को आए स्टेशन कमांडर विग्रेडियर जेएस राठौर ने गोल्डन फिश कैंटीन का निरीक्षण कर पूर्व सैनिको को मिल सुविधाओं और उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि पूर्व सैनिकों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा।

पूर्व सैनिकों की कपकोट में सीएसडी कैंटीन खोलने की मांग जल्द पूरी होने की संभावना है। सेना के स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियर जीएस राठौर ने कपकोट पहुंच कर कैंटीन की संभावनाओं को तलाशा। पूर्व सैनिकों के शिष्टमंडल को भी शीघ्र कैंटीन खोलने का भरोसा दिलाया।

उत्तराखंड पूर्व सैनिक संगठन के पदाधिकारियों ने उनसे मुलाकात कर समस्याओं का ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में ईसीएचएस में डाक्टरों की नियुक्ति करने और जांच मशीने लगाने की मांग की। संगठन के अध्यक्ष दर्वान सिंह हरड़िया ने कहा कि ईसीएचएस में तीन डाक्टरों के पद स्वीकृत हैं लेकिन एक भी डाक्टर तैनात नही है। उन्होंने डाक्टरों की तैनाती करने, सेंटर में कार्ड अपग्रेडिंग की सुविधा देने,ईसीजी की मशीनों को स्थापित करने, रिफरल की सुविधा देने, जिले में साल में एक बार भर्ती मेले का आयोजन करने की मांग की। उन्होंने कहा कि पहाड़ के युवाओं को भर्ती में लंबाई में छूट दी जाए। पहाड़ के बच्चों की लंबाई कम होने के कारण वे भर्ती नही हो पा रहे हैं। स्टेशन कमांडर ने बताया कि सभी समस्याओं के समाधान को वे अपने स्तर से प्रयास करेंगे। यहां ले.कर्नल मनीष खन्ना, मेजर साजी पीके, कैंटीन प्रभारी के.हरीश मेहरा, कर्नल देवेंद्र सिंह,भगवत बिष्ट,मनोज पंचपाल, विनोद पांडेय,कैलाश चंद्र, जगदीश प्रसाद, राजेंद्र नगरकोटी, धनसिंह भौर्याल, बालम सिंह, देवेंद्र भौर्याल आदि थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *