पीओके में फुल हुए लॉन्चिंग पैड और कैंप, घुसपैठ की कोशिश.

Spread the love

लेफ्टिनेंट जनरल बग्गावल्ली सोमशेखर राजू ने इंटरव्यू में जोर देकर कहा कि घाटी में आतंकवाद की कमर लगभग टूट गई है और पाकिस्तान को यह ‘हजम नहीं हो रहा है कि कश्मीरी शांति से रह रहे हैं और कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है। उल्लेखनीय है कि लेफ्टिनेंट जनरल राजू ने श्रीनगर में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण 15वीं कॉर्प की कमान 1 मार्च को संभाली थी। लेफ्टिनेंट जनरल राजू ने ई-मेल के जरिये दिए इंटरव्यू में कहा, ”भीतरी इलाकों में सक्रिय आतंकवादियों को मार गिराने के बाद आतंकवाद की कमर लगभग टूट गई है। मारे जा रहे इन आतंकवादियों की भरपाई करने के इरादे से हमें आशंका है कि गर्मी में सीमापार से घुसपैट की कोशिशों में इजाफा हो सकता है। हमें आशंका है कि घाटी में कम होते सक्रिय आतंकवादियों की भरपाई के लिए अधिक से अधिक घुसपैठ की कोशिश होगी क्योंकि घुसपैठ की कोशिश भी गर्मी के मौसम तक सीमित हो गई है।” उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में स्थित आतंकवादियों के सभी शिविर और 15 लांचिंग पैड (जहां से सीमा पर घुसपैठ कराई जाती है) आतंकवादियों से भरे पड़े हैं और वे पाकिस्तानी सेना की मदद से घुसपैठ करने के लिए बेताब हैं। जब उनसे पूछा गया कि जब पूरी दुनिया कोविड-19 की चपेट में है ऐसे में सीमापार से बढ़ी घुसपैठ की कोशिशों का मुकाबला करने के लिए सेना क्या कर रही है? इसके जवाब में लेफ्टिनेंट राजू ने कहा कि पाकिस्तान यह पचा नहीं पा रहा है कि कश्मीरी शांति से रह रहे हैं और कानून व्यवस्था बेहतर है। उन्होंने कहा, ”जब पूरी दुनिया कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए एक साथ आ रही है उस समय भी पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने में लगा है। सीमा पर तैनात हमारे सैनिक सभी साजोसामान से लैस हैं और किसी भी हरकत का माकूल जवाब देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *