मारा गया कानपुर वाला विकास दुबे, देखें वीडियो

Spread the love

विकास दुबे की मौत पर शहीद हुए पुलिस वालों के परिजनों ने खुशी जाहिर की है. पुलिस और योगी सरकार को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि हमें न्याय मिला. शहीद  जितेंद्र पाल के पिता ने कहा कि विकास दुबे के मारे जाने की खबर सुनने के बाद हमें संतुष्टि मिली. उन्होंने कहा कि इसके लिए योगी सरकार और उत्तर प्रदेश पुलिस , दोनों प्रशंसा के पात्र हैं. दोनों के प्रयास की वजह से ऐसा संभव हो पाया. दुर्दांत अपराधी के मारे जाने की खबर सुनने के बाद पूरे परिवार को संतुष्टि मिली है. जितेंद्र के पिता ने कहा विकास दुबे की मौत के साथ हमारे बेटे की शहादत सिद्ध हो गई. उसके शहीद होने पर गर्व है. अब मैं कह सकता हूं कि मुझे अपने बेटे के शहीद होने पर गर्व है, उसकी शहादत बेकार नहीं गई. वहीं शहीद की माता ने कहा कि विकास दुबे मारा गया, विकास के मारे जाने की खबर सुनने के बाद मन को शांति मिली है.

औरैया जिले के शहीद हुए राहुल के पिता ओमकुमार ने विकास दुबे के एनकाउंटर होने पर संतोष जाहिर किया. राहुल के परिवार ने कहा हमें संतोष है. जो भी हुआ अच्छा हुआ. हमें सरकार और पुलिस पर पूरा भरोसा था. यह होना ही था. काम मे थोड़ा समय लगता है. वहीं शहीद राहुल की बहन नंदनी ने कहा कि आज हमारे भाई का शांति हवन है. आज के दिन ही  हमारा भाई शहीद हुआ था आज के ही दिन वह भी मारा गया है. इससे हमारे भाई कीआत्मा को शांति मिलेगी और जो उसके संगी साथी हो पकड़े जाएं उनकी जांच हो और उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई हो.

 

बता दें कि कुख्यात अपराधी और कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले का मुख्य आरोपी विकास दुबे शुक्रवार सुबह कानपुर के भौती इलाके में पुलिस मुठभेड़ मे मारा गया. पुलिस अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी.  कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार ने बताया, “तेज बारिश हो रही थी. पुलिस ने गाड़ी तेज भगाने की कोशिश की जिससे वह डिवाइडर से टकराकर पलट गयी और उसमें बैठे पुलिसकर्मी घायल हो गये. उसी मौके का फायदा उठाकर दुबे ने पुलिस के एक जवान की पिस्तौल छीनकर भागने की कोशिश की और कुछ दूर भाग भी गया.” कुमार ने कहा, “तभी पीछे से एस्कार्ट कर रहे एसटीएफ के जवानों ने उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और उसी दौरान उसने एसटीएफ पर गोली चला दी जिसके जवाब में जवानों ने भी गोली चलाई और वह घायल होकर गिर पड़ा. हमारे जवान उसे अस्पताल लेकर गये जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *