हल्द्वानी घास काट रही महिला हुई तेदुए का शिकार

Spread the love

काठगोदाम क्षेत्र के गौला बैराज जंगल में घास काट रही बुजुर्ग महिला को तेंदुए ने अपना शिकार बना लिया। तेंदुआ उसे महिलाओं के झुंड से घसीटकर ले गया। 17 दिन के अंदर तेंदुए के हमले की यह दूसरी घटना है। इससे पहले 23 जून को सूनाकोट गांव में मंदिर जा रही महिला को तेंदुए ने मार डाला था। दोनों घटनाओं को देखते हुए वन विभाग ने तेंदुए को आदमखोर घोषित कर दिया है।

वीडियो

काठगोदाम गौला बैराज निवासी 60 वर्षीय पुष्पा सांगुड़ी शनिवार सुबह बसंती देवी, नंदी देवी, मुन्नी देवी और लता देवी के साथ बैराज से करीब तीन किमी दूर जंगल में मवेशियों के लिए चारा लेने गईं थीं। करीब साढ़े नौ बजे घास काटने के दौरान तेंदुआ पुष्पा पर झपटा और उसे घसीटकर ले गया। पुष्पा की चीख सुनकर साथी महिलाएं शोर मचाते हुए गांव की तरफ भागीं। चीखपुकार सुनकर कुछ ग्रामीण भी जंगल की ओर भागे। सूचना पर पहुंचे वनकर्मियों और पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से आधे घंटे बाद महिला का शव बरामद कर लिया। कुछ देर शव को घर में रखने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। वन क्षेत्राधिकारी मनोरा रेंज भूपाल सिंह मेहता ने मृतका के परिवार को एक लाख रुपये का मुआवजा और दाह संस्कार के लिए दस हजार रुपये दिए। सोमवार तक मुआवजे की शेष राशि भी परिजनों को दे दी जाएगी।

www.uttarakhanheadlines

प्रभागीय वनाधिकारी टीआर बीजूलाल ने कहा कि सोनकोट और गौला बैराज में दो महिलाओं की मौत के बाद तेंदुए को आदमखोर घोषित कर दिया गया है। मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक के कार्यालय से तेंदुए को मारने के आदेश जारी हो गए हैं। जल्द ही शूटरों की व्यवस्था कर तेंदुए को मार दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *