करोना से ढाई साल के बच्चे के साथ 11 लोगों की मौत

Spread the love

राज्य में शुक्रवार को कोरोना के 995 नये केस सामने आए हैं। 11 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई। कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 29,221 हो गई है। जबकि कुल मौत की संख्या 388 हो गई है। देहरादून में सबसे अधिक 281, यूएसनगर में 271 केस सामने आए।
स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ बुलेटिन के अनुसार 14 अल्मोड़ा, 7 बागेश्वर, आठ चमोली, 10 चंपावत, 161 हरिद्वार, 110 नैनीताल, 43 पौड़ी, 39 पिथौरागढ़, पांच रुद्रप्रयाग, 29 टिहरी, 17 उत्तरकाशी में नये केस सामने आए। 8237 सैंपल जांच को भेजे गए। शुक्रवार को 645 मरीज ठीक भी हुए है

संदिग्ध परिस्थितियों में सीडकुल के कर्मचारी ने लगाई फांसी

राज्य में अभी भी कुल एक्टिव केस 9294 है। डबलिंग रेट 24.80 दिन हो गया है। रिकवरी रेट 66.49 प्रतिशत पहुंच गया है। संक्रमण दर अब 6.11 प्रतिशत है। छह कोरोना पॉजिटिव मरीजों की एम्स ऋषिकेश, तीन की महंत इंद्रेश अस्पताल देहरादून, दो मरीजों की सुशीला तिवारी हल्द्वानी अस्पताल में मौत हुई।

राज्य में पिछले दस दिन में संक्रमण दर बढ़ गई है। एक से दस सितंबर के बीच देहरादून में 13805 टेस्ट हुए। इनमें 2306 केस पॉजिटिव आए। संक्रमण दर देहरादून जिले की 16.70 प्रतिशत पहुंच गई। जबकि राज्य की दर 6.11 प्रतिशत है। नैनीताल जिले की 13.21 प्रतिशत, हरिद्वार 9.34 प्रतिशत, यूएसनगर 9.23 प्रतिशत पहुंच गई है। सबसे कम संक्रमण दर पिथौरागढ़ 2.71 प्रतिशत, बागेश्वर 2.76 प्रतिशत है।
दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक ढाई साल के बच्चे की मौत हो गई। बच्चे को कोटद्वार अस्पताल से देहरादून रेफर किया गया था। देर रात अस्पताल में वेंटिलेटर पर बच्चे की मौत हो गई। गाइडलाइन के मुताबिक पुलिस प्रशासन और अस्पताल कर्मचारियों ने उसको शव को सुपुर्द ए खाक करवा दिया है। डिप्टी एमएस डॉक्टर एनएस खत्री ने बताया कि बच्चे के मल्टी ऑर्गन फैलियर होने की वजह से उसकी मौत हो गई अस्पताल में जब बच्चे को लाया गया तो उसकी हालत बेहद नाजुक थी। सांस लेने में उसे कठिनाई हो रही थी।  जिम्मेदार लोगों की मदद से शव का सुपूर्द ए खाक करवाया गया है।।