वर्चुअल रैली में बोलीं पूनम महाजन, उत्तराखंड प्रकृति का वरदान

Spread the love

भारतीय जनता युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन  ने मंगलवार को नॉर्थ मुंबई से उत्तराखंड की युवा संवाद वर्चुअल रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि उत्तराखंड को प्रकृति से मिला वातावरण, नैसर्गिक सुंदरता ईश्वरीय वरदान है। इसके आगे कुबेर की संपत्ति भी कम है।

 

पूनम महाजन ने वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हम यहां जो सांस लेते हैं, उत्तराखंड जैसे राज्य उसके फेफड़े हैं। वहां के जल, जंगल, जमीन हमें शुद्ध वायु प्रदान करते हैं तब हम महानगरों में रह पाते हैं। पूनम महाजन ने उत्तराखंड वासियों की बार-बार आने वाली आपदाओं से लड़कर खड़े होने की शक्ति को प्रणाम करते हुए कहा कि यहां का सरल परंतु अनुशासित अध्ययनशील जीवन देश के बाकी इलाकों के लिए अनुकरणीय है।

www.uttarakhandheadlines.com
केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए पूनम महाजन ने कहा कि प्रधानमंत्री ने आपदा के समय जान और जहान दोनों की रक्षा का जो संकल्प पूरा किया है, उससे विश्व चकित भी है और प्रेरणा भी ले रहा है। महामारी के बावजूद प्रधानमंत्री की आत्मनिर्भर राष्ट्र बनने की संकल्प शक्ति उन्हें विश्व के अग्रणी नेताओं मैं खड़ा करती है। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की प्रशासनिक अनुभवहीनता की तुलना उन्होंने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की प्रशासनिक क्षमता से करते हुए कहा कि यह उत्तराखंड ही है जहां से आए राज्यपाल महाराष्ट्र राज्य की जनता और बीजेपी कार्यकर्ताओं की आशा का केंद्र बने हैं।

इस दौरान मुख्य अतिथि, उत्तराखंड सरकार में मंत्री डा. धन सिंह रावत ने उत्तराखंड सरकार की ओर से युवाओं के रोजगार के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। साथ ही कार्यकर्ताओं से योजना को घर-घर तक पहुंचाने का आह्वान किया। इस दौरान प्रदेश भारतीय जनता युवा मोर्चा अध्यक्ष कुंदन लटवाल, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी नेहा जोशी, प्रदेश उपाध्यक्ष कैलाश शर्मा, प्रदेश महामंत्री एवं युवा मोर्चा प्रभारी कुलदीप कुमार प्रदेश भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा महामंत्री गुंजन सुखीजा ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *